पर्यावरण प्रबंधन में जीव चिकित्सा अपशिष्ट के प्रभावी निष्पादन पर बल देते हुए आज वक्ताओं और अतिथियों ने प्लास्टिक अपशिष्ट से होने वाले पर्यावरणीय नुकसान के बारे में चिंता जताई और अमानक पॉलिथीन का उपयोग न करने हेतु जागरूकता पैदा की | वक्ताओं ने पॉलिथीन को सबसे बड़ा खतरा बताया| अवसर था छेत्रिय कार्यालय मप्र प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड एवं इंटरनेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ वेस्ट मैनेजमेंट भोपाल के संयुक्त तत्वाधान में जीव चिकित्सा अपशिष्ट प्रबंधन विषय पर एक दिवसीय कपैसिटी बिल्डिंग वर्कशॉप का|

 

News-1

Comments 0

Leave a Comment